यूपी हॉट कुक्ड मील योजना क्या है : Up Hot Cooked Meal Yojana In Hindi

Up Hot Cooked Meal Yojana In Hindi : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी जी सभी आंगनबाड़ी केंद्रों के 3 से 6 वर्ष के बच्चों को गर्म भोजन उपलब्ध कराने हेतु Up Hot Cooked Meal Yojana का शुभारंभ किया है। योगी आदित्यनाथ जी ने 24 नवंबर 2023 को अयोध्या से 3401 आगनबाडी केंद्रों को इस योजना की अंतर्गत जोड़ा। योगी जी ने हॉट कुक्ड मील योजना को इस लिए शुरु किया है ताकि आंगनवाड़ी के सभी छोटे बच्चे यानी 3 से 6 वर्ष के बच्चें को गर्म भोजन मिल सकें जिससे उनका स्वास्थ प्रभावित नहीं हो।

yogi जी ने इस योजना को शुरु करने के लिए 403 करोड़ की लागत से 35 जनपदों के अंर्तगत आने वाले 3401 आगनवाड़ी केंद्रों को जोड़ा है। इस योजना के बारे में संपूर्ण जानकारी के लिए आप हमारे लेख को अंत तक पढ़े। इस लेख में हम hot cooked meal scheme के बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे।

योजना का नामHot Cooked Meal Yojana (गरम पका हुआ भोजन योजना)
लागू की गयीउत्तर प्रदेश सरकार 
लागू तिथि24 नवम्बर 2023
उद्देश्य3 से 6 वर्ष तक के बच्चों के पोषण में सुधार लाना।
लाभबच्चों का सर्वांगीण विकास करना।
लाभार्थी3 से 6 वर्ष तक के बच्चें
आवेदन प्रक्रियाआंगनवाड़ी केंद्र पर नामांकन
आधिकारिक वेबसाईटअभी उपलब्ध नही है

UP Hot Cooked Meal Yojana in Hindi Details

उत्तर प्रदेश सरकार में लगभग 1 लाख 90 हजार आंगनवाड़ी केन्द्र को संचालित किया जाता है, जिसमे कुल 2 करोड़ से अधिक लाभार्थी है। जिन्हे निम्न प्रकार की सेवाएं प्रदान की जाती है।

  • अनुपूरक पोषाहार
  • स्कूल पूर्व शिक्षा
  • स्वास्थय जांच 
  • निर्देशन एवं संदर्भ सेवा
  • स्वास्थ्य प्रतिरक्षण (टीकाकरण)
  • पोषण एवं स्वास्थ्य शिक्षा

अब उत्तर प्रदेश सरकार ने बच्चों के स्वास्थ को ध्यान पर नजर डालते हुए Up Hot Cooked Meal Yojana का शुभारंभ किया है । इस योजना के तहत 3 से 6 साल के बच्चों को गर्म भोजन उपलब्ध कराया जायेगा। इस योजना का लाभ लेने वाले बच्चो की संख्या लगभग 80 लाख के बराबर है। यह योजना 1लाख 90 हजार आगनवाड़ी केंद्रों में से केवल 3401 केंद्रों में शुरु की जाएंगी। योजना के तहत् प्रति बच्चें को 70 ग्राम फूड को निर्धारित किया गया है।

Up Hot cooked meal Yojana Launch Date

अपके मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी ने कहा की बच्चें भगवान के रूप होते है। हम ऐसे सभी लाखों बच्चों की सेवा करेंगे जिसका उनका पोषण, स्वास्थ में मजबूती मिल सकें। योगी जी ने प्रति बच्चों के लिए कितना ग्राम फूड उपलब्ध कराना है इसका भी निर्धारण कर दिया है ।

Up Hot Cooked Meal Yojana Launch Date : यूपी हॉट कुक्ड मील योजना कब शुरु की गई हैं ?

योजना को उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने 24 नवंबर 2023 को अयोध्या जिले से शुरु किया है। उन्होंने कहा की आज से सभी पात्र आगनवाड़ी केंद्रों के 3 से 6 वर्ष के बच्चों को गर्म भोजन उपलब्ध कराया जायेगा ताकी उनके पोषण की समस्या में सुधार लाया जा सके।

Hot Cooked Meal Scheme Up को 3401 आंगनवाड़ी केन्द्र में शुरु किया जायेगा

Hot Cooked Food Yojana के तहत उत्तर प्रदेश राज्य के करीब 35 जिलों के 3401 आगनवाड़ी केंद्रों के अंर्तगत आने वाले 3 से 6 वर्ष के बच्चों को हर रोज गर्म भोजन उपलब्ध कराया जाएगा। अभी इसे 35 जिलों में शुरु किया गया है। लेकिन समय के साथ साथ सभी राज्यों में इस योजना को शुरु कर दिया जायेगा।

बच्चो को मिलने वाले भोजन में दाल, चावल,सब्जी और रोटी जैसे पोषण आहार शामिल होगें । ताकी बच्चो को सभी पोषण आहार मिल सके। क्योंकि सरकार ने पाया कि छोटे बच्चें अधिक पोषण के शिकार बनते जा रहें है और 5 साल से छोटे बच्चों में 40% बौने है।

इसलिए सरकार ने 403 करोड़ रुपए खर्च करके 3401 आगनवाड़ी केंद्रों में इस योजना का सुभारंभ कर रही है। धीरे धीरे इसे सभी जिलों में शुरु कर दिया जायेगा

Up hot cooked meal scheme kya hai

Hot Cooked Meal Yojana Up के उद्देश्य

  1. पोषित और स्वस्थ बच्चे: गरम पका हुआ भोजन योजना के माध्यम से, योजना का प्रमुख उद्देश्य यह है कि हर बच्चे को पोषणपूर्ण और स्वस्थ भोजन प्रदान किया जाए, ताकि उनका सार्थक और संपूर्ण विकास हो सके।
  2. कुपोषण का नियंत्रण: योजना के अंतर्गत, कुपोषण से बचाव हेतु बच्चों को पौष्टिक आहार प्रदान करने के माध्यम से इस समस्या को कम किया जा सकता है।
  3. स्कूल में उपस्थिति बढ़ावा: गरम पका हुआ भोजन योजना से स्कूल में बच्चों की उपस्थिति में वृद्धि होगी, क्योंकि उन्हें पौष्टिक भोजन का समर्पणपूर्वक प्रदान होगा।
  4. जागरूकता बढ़ावा: योजना के अंतर्गत, समुदाय को बच्चों के पोषण के महत्व के बारे में जागरूक करने का भी प्रयास किया जा रहा है।
  5. समुदाय के सभी बच्चों को समर्थ बनाना: योजना के माध्यम से, समुदाय के सभी बच्चों को समर्थ और स्वस्थ बनाने का प्रयास किया जा रहा है, ताकि वे भविष्य में समर्थ नागरिक बन सकें।
  6. शिक्षा में सुधार: गरम पका हुआ भोजन योजना का उद्देश्य है कि बच्चे स्कूल में नियमित रूप से उपस्थित रहें और उनका शैक्षिक प्रदर्शन सुधारे, जिससे उनका भविष्य सकारात्मक दिशा में बढ़े।
  7. समाज में जागरूकता: योजना से बच्चों को पौष्टिक भोजन के महत्व के बारे में समझाने के लिए समाज में जागरूकता बढ़ाई जा रही है।
  8. गरीबी और भूखमरी का समापन: गरम पका हुआ भोजन योजना के माध्यम से गरीबी और भूखमरी को कम करने का प्रयास किया जा रहा है, ताकि समुदाय के बच्चों को सही और पौष्टिक आहार का पहुंच सके।
  9. मातृत्व स्वास्थ्य में सुधार: योजना के माध्यम से, माताएं और बच्चे दोनों को पौष्टिक भोजन प्रदान करके मातृत्व स्वास्थ्य में सुधार करने का प्रयास किया जा रहा है।
  10. कुपोषण की समस्या का समाधान: योजना का एक और मुख्य लाभ यह है कि इससे बच्चों में होने वाले कुपोषण को कम किया जा सकता है और उन्हें सही पोषण मिल सकता है।

Hot Cooked Meal Yojana की विशेषताएं

गरम पका हुआ भोजन योजना एक महत्वपूर्ण पहल है जो उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा की गई है। इसमें कई विशेषताएं हैं जो इसे एक उत्कृष्ट योजना बनाती हैं:

  1. 35 जिलों में कार्यान्वयन: यह योजना शुरुआती दौर में है और इसे अब तक 35 जिलों के 3403 आंगनबाड़ी केंद्रों में लागू किया गया है। शेष जिलों में भी इसे बहुतेरे दिनों के भीतर लागू किया जाएगा।
  2. निःशुल्क भोजन: इस योजना के तहत, आंगनबाड़ी केंद्रों में बच्चों को निःशुल्क भोजन प्रदान किया जाएगा, जिससे वे स्वस्थ और पौष्टिक भोजन का लाभ उठा सकते हैं।
  3. पौष्टिक और पोषक भोजन: योजना के तहत, बच्चों को दाल, चावल, सब्जी, रोटी, और फल जैसे पौष्टिक और पोषण से भरपूर भोजन प्रदान किया जाएगा।
  4. ताजा और स्थानीय सामग्री: भोजन को ताजा और स्थानीय सामग्री से तैयार किया जाएगा, जिससे उसकी गुणवत्ता में सुधार होगी और स्थानीय किसानों को भी बढ़ावा मिलेगा।
  5. स्वच्छ और हाइजीनिक वातावरण: बच्चों को स्वच्छ और हाइजीनिक वातावरण में भोजन प्रदान किया जाएगा, जिससे उनका स्वास्थ्य और हफ्ते बनाए रखा जा सकेगा।
  6. निरंतर निगरानी: योजना के प्रभावी कार्यान्वयन के लिए नियमित निगरानी होगी, जिससे भोजन की गुणवत्ता और बच्चों की उपस्थिति की निगरानी की जाएगी।

यह योजना एक बच्चे के सही स्वास्थ्य और पोषण के लिए महत्वपूर्ण कदम है और उत्तर प्रदेश के सभी बच्चों को इससे लाभान्वित होने का सुनिश्चित करेगी।

निष्कर्ष (Conclusion)

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रारंभ की गई “गरम पका हुआ भोजन योजना” एक अत्यंत महत्वपूर्ण और दूरदर्शी पहल है। इस योजना के माध्यम से सरकार बच्चों के पोषण में सुधार, कुपोषण को कम करने और स्कूलों में बच्चों की उपस्थिति बढ़ाने का प्रयास कर रही है। इसके साथ ही, यह योजना बच्चों की शिक्षा के प्रति रुचि बढ़ाने और उन्हें स्वस्थ और खुशहाल रखने में सहायक होगी। इस योजना को सफल बनाने के लिए सरकार को समुदाय की भागीदारी सुनिश्चित करनी चाहिए और योजना के कार्यान्वयन पर कड़ी निगरानी रखनी चाहिए। गरम पका हुआ भोजन योजना उत्तर प्रदेश में बच्चों के जीवन में सकारात्मक बदलाव लाने की एक महत्वपूर्ण पहल है, जिसका समर्थन किया जाना चाहिए।

Leave a Comment