(PMAY) PM Awas Yojana 2023-24 – ऐसे देखें प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट में नाम

प्रधानमंत्री आवास योजना 2023 | pm awas Yojana 2023 list | PMAY online registration | PMAY stetus कैसे चेक करें। | PMAY Eligibility |

भारत सरकार की एक ऐसी योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना (PMAY) जिसकी शुरुआत 2015 की गई है। गांवो तथा शहरों में आवास की मांग बढ़ने के कारण प्रधानमन्त्री ने आवास सम्बन्धित सभी समस्या को दूर करने के लिए प्रधानमन्त्री आवास योजना की शुरुआत की है। इस योजना के माध्यम से व्यक्ति को घर बनाने के लिए सब्सिडी प्रधान करेगी

हमने इस लेख के माध्यम से PMAY उद्देश्य, पात्रता, आवश्यक दस्तावेज,मानदंड, (PMAY objective Eligibility, required documents, Criteria) व पैरामीटर, सब्सिडी कैलकुलेशन(subsidy calculation), PM Awas Yojana ( PMAY) के लिए ऑनलाइन/ऑफलाइन आवेदन कैसे करें, और योजना से संबंधित अन्य सभी जानकारी जो आप PMAY आवास योजना 2023 के बारे में जानना चाहते हैं, सभी खबरों को कवर किया है।

प्रधानमंत्री आवास योजना पर लेटेस्ट न्यूज़

दिसंबर 2022: पश्चिम बंगाल सरकार ने पूरे राज्य में PMAY लाभार्थियों का फिर से सर्वे करने का काम जिला प्रशासन को सौंपा है। वही यह भी आदेश दिया गया है की इस पूरे सर्वे पीएम आवास योजना के लाभार्थियों की पात्रता का पता लगाया जाय। यह सर्वे उन क्षेत्रों में किया जाएगा जहां 25 प्रतिशत से कम लाभार्थी सूची से बाहर है।

केंद्र सरकार ने PMAY के माध्यम से उत्तराखंड के लिए 18,000 से अधिक घरों का आवंटन किया है।अपको बता दें की सर्वे करने वाले टीम को कई क्षेत्रों मे खतरो का सामना करना पड़ा है इसलिए उन्हें अब राज्य सरकार सुरक्षा मुहैया कराएगी।

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण (PMAY-G) को वर्ष 2024 तक बढ़ा दिया गया है। अब पक्के घरों का कुल लक्ष्य भी संशोधित कर 2.95 करोड़ घर कर दिया गया है।

प्रधानमन्त्री आवास योजना का मुख्य उद्देश्य

शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में आवास की आपूर्ति के लिए pm awas yojana की शूरुआत की है इस योजना का मुख्य उद्देश्य नीचे दी गई सूची में निम्न प्रकार है

  • योजना का मुख्य उद्देश्य हर गरीब को कम कीमत पर घर उपलब्ध कराना है।
  • प्राइवेट डेवलपर्स की सहायता से झुग्गी-झोपड़ियों का पुन:निर्माण  करना।
  • क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी( credit linked subsidy )योजना के ज़रिए गरीबों के लिए किफायती आवास को बढ़ावा देना।
  • सार्वजनिक क्षेत्रों और निजी क्षेत्रों की साझेदारी में अधिक मात्रा में घरों का निर्माण करना।
  • व्यक्तिगत रुप से घर के निर्माण के लिए सब्सिडी प्रदान करना।

ये भी पढ़े-

प्रधानमंत्री आवास योजना पात्रता 2023 (PMAY Eligibility)

प्रधानमंत्री आवास योजना 2023 का लाभ प्रदान करने के लिए नीचे दिए गए सूची में निम्न पत्रताओ का होना अति आवश्यक है

आवेदन करने वाले लाभार्थी के परिवार में पति, पत्नी और अविवाहित बेटे/बेटियां हो सकती है
आवेदन करने वाले लाभार्थी के पास पक्का मकान नही होना चाहिए, जिसका अर्थ है कि पूरे भारत में आवेदक या आवेदक के परिवार के किसी भी अन्य सदस्य के नाम पर घर नहीं होना चाहिए।
कोई भी वयस्क व्यक्ति को भले ही उसका विवाह हुआ हो या नहीं हुआ हो, वह पूरी तरह से एक अलग परिवार माना जायेगा।

PMAY योजना 2023 के लाभार्थी

PMAY योजना के तहत लाभार्थियों को मुख्यतः 4 श्रेणीयो में शामिल किया गया है जो निम्नलिखित प्रकार हैं-

मध्यम आय वाले समूह (MIG I) जिनकी वार्षिक आय 6 -12 लाख रुपये के बीच है।

मध्यम आय वाले समूह (MIG II) जिनकी वार्षिक आय 12 -18 लाख रुपये के बीच है।

कम आय वाले समूह (LIGs) जिनकी वार्षिक आय 3 -6 लाख रुपये के बीच है।

आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग वाले समूह (EWS) जिनकी वार्षिक आय 3 लाख रुपये तक ही है।

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत LIG या EWS लाभार्थी बनने के लिए आवेदक कर्ता को आय प्रमाण के समर्थन में हलफनामा देना पड़ेगा ।वही योजना केअंतर्गत आने वाली क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी योजना हेतु पात्र केवल LIG और MIG के लाभार्थी हैं। EWS के लाभार्थी प्रधानमंत्री आवास योजना से पूरी तरह से सहायता के पात्र हैं।

प्रधानमंत्री आवास योजना (PM Awas Yojana 2023-24) किस प्रकार काम करती है?

मान लेंते है कि आप मध्यम आय वाले समूह MIG-II श्रेणी में आते (अर्थात आपकी कुल वार्षिक आय 12-18 लाख रुपये के बीच है) हैं। आप 50 लाख रुपये का घर खरीदना चाहते हैं। तो आपका न्यूनतम डाउन पेमेंट 20% होगा, अर्थात 10 लाख रुपये, तथा आप शेष 40 लाख रुपये की धन राशि ऋण के माध्यम से दिया जा सकता है।

प्रधानमंत्री आवास योजना 2023 के मुख्य घटक क्या हैं?

प्रधानमंत्री आवास योजना के माध्यम से देश के अत्यधिक मात्रा में लोगों को लाभ देने के लिए सरकार ने आवेदक की आय, आर्थिक स्थिति तथा भूमि की उपलब्धता के आधार पर चार घटक बनाए हैं। जो निम्नलिखित प्रकार है –

1• क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी योजना (CLSS) – PMAY

गांवो तथा शहरों में आवास की मांग उपलब्ध कराने का सबसे बड़ा कारण लोगो के पास पैसे की कमी और सस्ती कीमतों पर घरों की कम उपलब्धता है। इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए, सरकार ने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी योजना (CLSS) शुरुआत की है क्योंकि होम लोन सब्सिडी देने की आवश्यकता को समझा जा सके, क्योंकि शहरी गरीब या तो अपना घर बना सकें या खरीद सकें।

तालिका में बताया गया कि CLSS योजना के तहत क्या शामिल है।

प्रकार ऋण का उद्देश्यवार्षिक आय (रु)सब्सिडी ब्याजअधिकतम कॉर्पेट एरियावैधताअधिकतम ब्याज अनुदान राशिमहिला स्वामित्व
EWS & LIGनिर्माण / विस्तार / खरीद6 लाख रुपये तक6.50%60 वर्ग मीटर2022र. 2.67 लाखहाँ
MIG -1निर्माण / खरीद6-12 लाख रु4.00%160 वर्ग मीटर2019रु. 2.35 लाखनहीं
MIG -2निर्माण / खरीद12-18 लाख रु3.00%200 वर्ग मीटर2019रु. 2.30 लाखनहीं

2• इन-सीटू स्लम पुनर्विकास (ISSR) – PMAY

अपको बता दे की इन-सीटू पुनर्विकास योजना मुख्य तौर पर जमीन का संसाधनों के रूप में इस्तेमाल न करके, वंचित परिस्थितियों में रहने वाले ग्रामीण व शहरी लोगों को घर उपलब्ध कराकर निजी संगठनों की सहायता से झुग्गियों का पुनर्विकास करना है। राज्य तथा केंद्रशासित प्रदेशो में रहने वाले लोगों के लिए घरों की कीमतें केंद्र सरकार द्वारा निर्धारित की जाएंगी।

योजना के तहत

पीएम आवास योजना की सहायता से झुग्गी निवासियों को घर बनाने के लिए 1 लाख रुपये की धनराशि प्रदान की जायेगी।

बोली प्रक्रिया के ज़रिए जो भी इस परियोजना के लिए सबसे अच्छी कीमत प्रदान करेगा, उन निजी निवेशकों को चुना जाएगा।

जिस समय झुग्गी निवासियों का घर बन रहा होगा उस समय झुग्गी निवासियों को अस्थायी रुप से आवास प्रदान किया जाएगा।

3• अफोर्डेबल हाउसिंग इन पार्टनरशिप (AHP) – प्रधानमंत्री आवास योजना 2023

आपको पहले ही बता दे,अफोर्डेबल हाउसिंग इन पार्टनरशिप (AHP) योजना का उद्देश्य सिर्फ EWS के अंतर्गत आने वाले परिवारों को घर खरीदने और बनाने के लिए केंद्र सरकार की तरफ से 1.5 लाख रुपये तक की सहायता प्रदान की जाएगी। ऐसे प्रोजेक्ट्स के लिए राज्य/केंद्र शासित प्रदेश या तो निजी संगठनों या तो एजेंसियों के साथ मिलकर सहयोग कर सकते हैं।

योजना के तहत

राज्य/केंद्र शासित प्रदेश EWS के तहत खरीदारों को मिलने वाले वाले घरों के लिए ऊपरी मूल्य सीमा निर्धारित करेंगे।

इन सभी निर्मित घरों को किफायती बनाने के लिए मूल्य तय करने के दौरान कालीन क्षेत्रों पर विचार किया जाता है।

राज्य/केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा निजी पार्टी की भागीदारी के बिना निर्मित किए गए घरों पर कोई लाभ मार्जिन नहीं होगा।

जिनमें EWS के लिए निर्मित कुल घर 35% है, केवल उन आवास परियोजनाओं को केंद्र सरकार से अनुदान मिलेगा।

4• लाभार्थी के नेतृत्व वाले व्यक्तिगत घर का निर्माण/संवर्द्धन (BLC) – प्रधानमंत्री आवास योजना 2023

इस योजना का मुख्य उद्देश्य पिछले 3 योजनाओं में EWS के अंतर्गत आने वाले उन परिवारों को जो इन योजनाओं का लाभ नहीं उठा सके हैं ऐसे लाभार्थी परिवार को केंद्र सरकार द्वारा घर के निर्माण के लिए 1.5 लाख रुपए की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।

योजना के तहत

इस योजना के तहत केंद्र सरकार मैदानी क्षेत्रों में 70,000 रुपये से 1.20 लाख रुपये की सहायता प्रदान करेगी।

वही पहाड़ी एवं दुर्गम इलाकों में 75,000 रुपये से 1.30 लाख रुपये के बीच सहायता प्रदान करेगी।

जिस झुग्गी झोपड़ीयो के पास कच्चा या अर्ध-पक्का घर है या जिनका पुनर्विकास नहीं हुआ है, वे इस योजना का लाभ उठा सकते हैं

(PMAY) प्रधानमंत्री आवास योजना 2023 के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

PMAY योजना के लिए आप ऑनलाइन माध्यम से आवेदन कर सकते हैं उसके लिए आपको हमारे लेख को पूरा पढ़े और इसे फॉलो करें।

सबसे पहले आपको PMAY की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

PMAY की आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद मेन्यू में सिटीजन असेसमेंट (Citizen Assessment) ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।

उसके बाद एक नया पेज़ खुलेगा जिसमे आवेदक अपना आधार कार्ड दर्ज करना होगा

आधार संख्या दर्ज हो जाने के बाद आपके समाने आवेदन पेज खुल जाएगा।

PMAY के तहत आवेदक को इस पेज पर आय विवरण, व्यक्तिगत विवरण, बैंक खाता विवरण तथा अन्य आवश्यक जानकारी दर्ज करना होगा।

आवेदकों को सबमिट करने से पहले सभी जानकारी दोबारा जाचले जो उन्होंने दर्ज किया है सही है या गलत।

उसके बाद ‘सेव’ विकल्प पर क्लिक करना होगा। जैसे ही आप “सेव” बटन पर क्लिक करते है उन्हे एक यूनिक एप्लिकेशन संख्या प्राप्त होगी।

उसके बाद आपको भरे हुए आवेदन पत्र को डाउनलोड करना होगा।

उसके बाद आवेदक को अपने निकटतम CSC कार्यालय या होम लोन की प्राप्त कराने वाले वित्तीय संस्थान / बैंक में फॉर्म जमा कर सकते है। आवेदक को फॉर्म के साथ सभी मांगी गई आवश्यक दस्तावेज जमा करने होंगे।

PMAY लाभार्थी सूची: PMAY सूची में अपना नाम कैसे खोजें?

प्रधानमंत्री आवास योजना 2023 सूची में अपना नाम देखने के लिए हमारे साथ जुड़े रहे नीचे दिए सूचि को ध्यान से पढ़े और उसे फॉलो करें

(PMAY) pm awas Yojana 2023 -24

PMAY सबसे पहले लाभार्थी सूची वेबसाइट पर जाएं। अपना पंजीकरण नंबर दर्ज करें।

सूचि देखने के लिए ‘सबमिट’ पर क्लिक करें। उसके बाद अपना नाम सूची में देख सकते हैं

प्रधानमंत्री आवास योजना आवेदन की स्थिति कैसे जांचें?

आप अपने प्रधानमंत्री आवास योजना आवेदन की स्थिति की जांच करने के लिए PMAY ट्रैक असेसमेंट वेबसाइट पर जाना होगा

अपने स्टेटस को दो तरीकों से देख सकते है। किसी एक में ट्रैक करें:

1. अपना नाम, अपने पिता का नाम और अपनी रजिस्टर मोबाइल नंबर दर्ज करें।

2. अपनी असेसमेंट आईडी और अपना रजिस्टर मोबाइल नंबर दर्ज करें।

PMAY 2023 के लिए ऑफलाइन आवेदन कैसे करें?

प्रधानमंत्री आवास योजना (PMAY) के ऑफ़लाइन आवेदन के लिए आपको आवेदन पत्र प्राप्त करने के लिए नजदीकी किसी भी CSC कार्यालय पर जाना होगा। वहा PMAY आवेदन पत्र को भरकर और इससे सम्बन्धित अन्य आवश्यक दस्तावेजों के साथ वहीं जमा कर दे।

प्रधानमंत्री आवास योजना (Pradhan Mantri Awas Yojana) के लिए आवश्यक दस्तावेज

PMAY योजना के लिए आवेदन करने के लिए आपके पास निम्नलिखित दस्तावेजों का होना अनिवार्य है।

एक हलफनामा जिसमें कहा गया हो कि आपके परिवार के किसी भी सदस्यों के पास पक्का घर नहीं है।

आधार कार्ड
वोटर आईडी
Account – बैंक के खाते का नम्बर/पासबुक
पंजीकरण संख्या – स्वच्छ भारत मिशन का
पंजीकृत मनरेगा जॉब कार्ड नंबर

Leave a Comment